Header 300×250 Mobile

राज्यस्तरीय बीएड प्रवेश परीक्षा में समस्तीपुर के प्रीतम कुमार बने स्टेट टॉपर

छात्राओं में पटना की राखी कुमारी को राज्य भर में मिला प्रथम स्थान

- Sponsored -

1,273

- sponsored -

- Sponsored -

पहली बार छह ट्रांसजेंडर परीक्षार्थियों ने भी बीएड प्रवेश परीक्षा में सफलता हासिल की

दरभंगा (voice4bihar news)। दो वर्षीय बी.एड एवं शिक्षा शास्त्री कोर्स में नामांकन के लिए 13 अगस्त को आयोजित सीईटी-बी.एड 2021  प्रवेश परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया गया है। परीक्षा का रिजल्ट आधिकारिक वेबसाइट www.bihar-cetbed-lnmu.in पर जारी किए गए हैं। परीक्षा में शामिल हुए अभ्यर्थी वेबसाइट पर अपना आवेदन संख्या अथवा रौल नंबर एवं जन्म तिथि उपयुक्त स्थान पर डालकर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

परीक्षा के लिए 1,36,772 अभ्यर्थियों के लिए एडमिट कार्ड जारी किये गये थे। इसमें 1,17,968 अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए थे। 18,804 अभ्यर्थी अनुपस्थित थे। 1,12,146 अभ्यर्थियों ने परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। इस प्रकार उपस्थित अभ्यर्थियों में 95 प्रतिशत अभ्यर्थियों ने सफलता प्राप्त की है। सफल हुए अभ्यर्थियों में 47,757 महिला, 64,383 पुरूष व 6 ट्रांसजेंडर शामिल हैं। बी.एड के लिए 1,11,981 अभ्यर्थी व शिक्षा शास्त्री के लिए 165 अभ्यर्थी सफल हुए हैं।

कुलपति प्रो. सुरेंद्र प्रातप सिंह ने सीईटी-बी.एड 2021 की प्रवेश परीक्षा के लिए नोडल विश्वविद्यालय नामित करने के लिए राज्यपाल सह कुलाधिपति को आभार व्यक्त किया एवं राज्य नोडल पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार मेहता को बधाई देते हुए परीक्षा कार्यों के सफल क्रियान्वयन के लिए उनकी टीम की तारीफ की। ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय ने 12 दिनों के भीतर सीईट-बी.एड 2021 के परिणाम घोषित करने का कार्य पूर्ण कर लिया है। मुझे पूरा उम्मीद है कि ये टीम काउंसिलिंग का कार्य भी ससमय पूरा कर लेंगे।

विज्ञापन

यह भी पढ़ें : राज्यस्तरीय बीएड प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी, 95.06 प्रतिशत परीक्षार्थी हुए सफल

राज्य नोडल पदाधिकारी प्रो. अशोक कुमार महेता ने बताया कि कोरोना महामारी काल में परीक्षा का आयोजन और समय से परिणाम घोषित करना एक बड़ी चुनौती थी। कुलपति के कुशल नेतृत्व के कारण ही ये सभी कार्य सफल हो पाया।

राज्य स्तरीय इस परीक्षा में समस्तीपुर के कल्याणपुर लदौरा मिल्की निवासी प्रीतम कुमार 105 अंक प्राप्त कर ओवरऑल टॉपर रहे। प्रीतम ने इसका पूरा श्रेय दादाजी वीरवर प्रसाद सिंह दादी राजो देवी पिता पप्पू सिंह एवम माता कुमारी सविता सरोज को दिया। जबकि सारण जिला के मांझी मटियार निवासी विवेक कुमार को भी 105 अंक ही मिले लेकिन स्नातक के मार्क्स पर उन्हें दूसरा स्थान दिया गया।

इसके अलावा 104 अंक लाकर खगड़िया के अविनाश कुमार ने तीसरा जबकि 103 अंक लाकर पटना गुलजारबाग कि राखी कुमारी को चौथा स्थान प्राप्त हुआ। वही 102 अंक लाकर नालंदा के आकाश कुमार, रांची झारखंड के अमरेंद्र कुमार, जहानाबाद के अश्विनी कुमार आर्या, खगड़िया के चंदन कुमार चांद, मधुबनी की कुमारी खुशबनती और पटना के सोनू को क्रमसः पांचवां से दसवां स्थान प्राप्त हुआ। छात्राओं में उत्तर प्रदेश की अंजली कुमारी ने 98 अंक प्राप्त कर महिलाओं में 9 वां स्थान प्राप्त किया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT