Header 300×250 Mobile

अवैध बालू खनन रोकने के लिए एक्शन में आई रोहतास पुलिस

सोन नदी के घाट पर जाने के लिए बनाये गए रास्ते को किया ध्वस्त

- Sponsored -

300

- Sponsored -

- sponsored -

खनन विभाग की प्रधान सचिव ने पुलिस पर लगाये थे गंभीर आक्षेप

रोहतास एसपी आशीष भारती खुद कर रहे कार्रवाई की निगरानी

रोहतास से बजरंगी कुमार के साथ अभिषेक कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। खनन विभाग ने प्रदेश में अवैध बालू खनन के संबंध में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाये तो संबंधित जिलों की पुलिस त्वरित एक्शन में आ गयी। रोहतास जिले में पुलिस कप्तान आशीष भारती ने बालू खनन एवं भंडारण के साथ-साथ ट्रांसपोर्टिंग मामले को गंभीरता से लेते हुए ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू कर दी है। विदित हो कि 19 मई को खनन विभाग की प्रधान सचिव हरजोत कौर ने पुलिस महानिदेशक को प्रेषित पत्र में बालू के अवैध खनन मामले में पुलिस को कठघरे में खड़ा किया था।

ट्रांसपोर्टिंग में संलिप्त ट्रक व ट्रैक्टर किये गए जब्त

इस पत्र के संज्ञान में आने के साथ ही रोहतास पुलिस सक्रिय हो गयी। पिछले 3 दिनों के अंदर काराकाट कच्छवा से लेकर नासरीगंज, दरिहट, तिलौथू व रोहतास थाना क्षेत्र के दर्जनों घाटों पर पहुंचकर सोन नद में बालू ट्रांसपोर्टिंग को लेकर बनाए गए आवागमन के रास्तों को कटाई करते हुए ध्वस्त किया गया।

इसके साथ ही घाट एवं सड़कों पर ट्रांसपोर्टिंग में संलिप्त ट्रकों और ट्रैक्टरों को जब्त करने की कार्रवाई भी लगातार की जा रही है। पूरे मामले की कमान स्वयं पुलिस कप्तान आशीष भारती संभाल रहे हैं। अभियान में संबंधित थाना क्षेत्र के थानाध्यक्ष सहित अन्य पुलिसकर्मी अनुमंडल पदाधिकारी का सहयोग भी लिया जा रहा है।

विज्ञापन

सोन नदी में अवैध बालू खनन के विरोध में कार्रवाई करते पुलिस अफसर।
सोन नदी में अवैध बालू खनन के विरोध में कार्रवाई करते पुलिस अफसर।

वर्दीधारियों को प्रधान सचिव ने ठहराया था जिम्मेदार

पुलिस महानिदेशक को प्रेषित पत्र में खनन विभाग के प्रधान सचिव ने बालू ट्रांसपोर्टिंग मामले में पुलिस विभाग पर गंभीर आरोप लगाते हुए बालू के अवैध खनन के लिए आंशिक तौर पर वर्दी धारियों को जिम्मेवार ठहराया है। विधि व्यवस्था लॉकडाउन सड़क दुर्घटना शराबबंदी अपराध नियंत्रण सहित कई जिम्मेदारियों को एक साथ उठाने वाले वर्दीधारियों की कर्तव्य निष्ठा पर पर सवाल उठने के बाद अचानक ताबड़तोड़ तेज हो चुकी कार्रवाई से बालू ट्रांसपोर्टिंग एवं खनन से जुड़े कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

रोहतास में अब तक किसी वर्दीधारी पर गाज नहीं

हालांकि इस मामले को लेकर अब तक रोहतास जिले में किसी वर्दीधारी पर कार्रवाई की गाज नहीं गिरी है, जो पुलिस कर्मियों के लिए राहत देने वाली खबर है। इसके साथ ही बाजार में बालू की उपलब्धता में आई अचानक कमी के कारण निर्माण कार्य से जुड़े मजदूरों के समक्ष रोजगार की समस्या भी विकराल रूप धारण करती नजर आ रही है।

बहरहाल सरकारी स्तर पर जारी वरीय अधिकारियों के आदेश और निर्देश का पालन करना मातहत अधिकारियों और कर्मचारियों की जिम्मेदारी मानी जाती है जिसे निभाने के लिए फिलहाल रोहतास पुलिस रात-दिन एक किए हुए है।

यह भी देखें : शराब की खेप मंगाने वाला तस्कर उपेन्द्र गिरफ्तार

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored