Header 300×250 Mobile

कोरोना से जंग में लोग लापरवाह, प्रशासन भी बेपरवाह

लॉकडाउन में चार घंटे की ढील के दौरान सड़कों पर होती है ठेलम-ठेल

- Sponsored -

413

- sponsored -

- Sponsored -

मेडिकल दुकान से लेकर सब्जी मार्केट तक हो रही भारी भीड़

रोहतास से बजरंगी कुमार सुमन की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। भीड़ भरे बाजार में वही ठेलम-ठेल, अधिकतर चेहरों से फेस मास्क गायब व गाइडलाइंस के प्रति बेपरवाही। सरकार की ओर से लगाए गए तमाम प्रतिबंधों के बावजूद कोरोना से जंग में ऐसी लापरवाही कहीं भारी न पड़ जाए। राज्य के तमाम छोटे-बड़े शहरों में ऐसे नजारे लॉकडाउन की अनदेखी करते नजर आ रहे हैं।

रोहतास जिला मुख्यालय सासाराम में कोरोना गाइडलाइंस एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग की किस कदर धज्जियां उड़ रही है, इसे सड़कों पर जद्दोजहद करती भीड़ के रूप में देखा जा सकता है। सासाराम शहर में यह नजारा एक दिन का नहीं, बल्कि हर रोज का है। प्रशासन की लाख सख्ती के बावजूद लोग लापरवाह होकर खुद के साथ-साथ समाज के अन्य लोगों के लिए भी खतरा मोल ले रहे हैं।

हर रोज बढ़ रहा संक्रमितों का आंकड़ा

विज्ञापन

लोगों की बेफक्री का यह आलम तब है जब कोरोना संक्रमण के आंकड़े हर रोज बढ़ते जा रहे हैं। रोहतास जिले में रविवार को 222 नए कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई। इसके साथ ही सक्रिय कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 1831 तक जा पहुंचा। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक 222 संक्रमितों में से 206 रोहतास जिले के हैं जबकि शेष 16 अन्य जिलों से है। इसके अलावा जिले में अब तक 1668 मरीज होम आइसोलेशन में कोरोनावायरस से जंग लड़ रहे हैं तथा जमुहार स्थित नारायण मेडिकल कॉलेज में 74 एवं डेडीकेटेड कोविड -19 हेल्थ केयर सेंटर में 89 मरीज इलाजरत हैं।

कोरोना से मरने वालों की संख्या भी दो सौ के करीब

इधर कोरोना से मरने वालों की तादाद भी बढ़ती जा रही है। जिले में अबतक कोविड से मौत का आंकड़ा दो सौ के करीब पहुंच चुका है। महामारी रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के साथ-साथ जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग लगातार लोगों से अपने घरों में रहने की अपील कर रहा है। इसके बावजूद लोग भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज नहीं कर रहे।

मुख्य सड़क पर पहले जैसा ही लग रहा जाम

सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय के चंद कदमों की दूरी पर स्थित सड़क पर दिखी भीड़ सिर्फ एक बानगी है। प्राय: शहर के धर्मशाला रोड, सरकारी गोला व सब्जी मंडियों में ऐसी ही भीड़ हर रोज देखने को मिल रही है। बावजूद इसके जिला प्रशासन महज मुख्य सड़कों तक ही लॉकडाउन का पालन करवा पाता है। वॉयस फॉर बिहार की अपील है कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए भीड़ भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored