Header 300×250 Mobile

रोहतास जिले के मैदानी इलाके में सक्रिय संगठित लुटेरा गिरोह बेनकाब

गिरोह के सरगना सहित चार कुख्यात अपराधी हथियार सहित गिरफ्तार

- Sponsored -

322

- sponsored -

- Sponsored -

मुख्य सरगना का लंबा आपराधिक इतिहास, हत्या व लूट के कई कांड में शामिल

रोहतास जिले के विभिन्न थानों के अलावा भोजपुर पुलिस का भी वांछित है चंदन

  • अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। रोहतास जिले का मैदानी क्षेत्र माने जाने वाले नोखा, संझौली, बिक्रमगंज, नटवार और दिनारा के बीच नहरी सड़क सहित लिंक सड़कों पर आर्गेनाइज्ड क्राइम को अंजाम देने वाले लुटेरा गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। यह गिरोह सूनसान सड़कों से गुजरने वाले बाइक सवारों से मोबाइल, महिलाओं के जेवरात और महंगी नई मोटरसाइकिलों को हथियार का भय दिखाकर लूट लेता था। पुलिस ने इस आपराधिक गिरोह के सरगना सहित चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरोह के मुख्य सरगना पर रोहतास के अलावे भोजपुर जिले में भी आपराधिक मामले दर्ज हैं।

रोहतास पुलिस को बड़ी सफलता, पुरस्कृत होगी टीम

संगठित अपराध को अंजाम देने वाले इस गिरोह में करीब दर्जन भर अपराधियों के शामिल होने की जानकारी मिली है। पुलिस ने चार अपराधियों की गिरफ्तारी के साथ ही इस गिरोह में शामिल आधा दर्जन से अधिक अपराधियों की कुंडली खंगाल ली है। इन बदमाशों की भी सरगर्मी से तलाश जारी है। पुलिस कप्तान आशीष भारती ने इस लुटेरा गिरोह के अन्य सदस्यों को बहुत जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया है। साथ ही पूरे अभियान में अभी तक मिली सफलता के लिए टीम में शामिल पुलिस पदाधिकारियों को पुरस्कृत करने की घोषणा भी की है।

बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में था लुटेरा गिरोह

इस पूरे अभियान का नेतृत्व बिक्रमगंज डीएसपी शशि भूषण प्रसाद तथा सासाराम डीएसपी संतोष कुमार राय कर रहे थे, जिसमें नोखा थानाध्यक्ष राजेश कुमार की सराहनीय भूमिका रही है। पुलिस कप्तान के मुताबिक इन लुटेरों की गिरफ्तारी नोखा बाजार के समीप नोखा डग से उस वक्त की गई, जब यह सब किसी बड़ी आपराधिक वारदात को अंजाम देने के लिए सशस्त्र दस्ते के साथ जमा हुए थे। लुटेरा गिरोह के इन सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने बड़ी राहत की सांस ली है। हालांकि चार बदमाशों की गिरफ्तारी के बाद गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी चुनौती मानी जा रही है।

विज्ञापन

चार कट्टा, एक रिवाल्वर और कारतूस सहित चाकू बरामद

रोहतास जिले के मैदानी क्षेत्र में लूटपाट की घटना को अंजाम देने वाले लुटेरों के पास से पुलिस ने चार देशी कट्टा, एक रिवाल्वर, 10 जिंदा कारतूस, 50 खोखा, 4 मोबाइल व तीन मोटरसाइकिलों सहित एक चाकू जब्त किया गया है। पुलिस के अनुसार इस गिरोह में अपराधियों की संख्या आधा दर्जन से अधिक है, जिसमें चार अपराधियों को पकड़ा गया है। अन्य बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस अपना जाल बिछाए हुए है।

पुलिस कप्तान आशीष भारती के मुताबिक उनकी गिरफ्तारी भी शीघ्र होना तय है। फिलहाल जिन अपराधियों की गिरफ्तारी हुई है, उनमें नटवार थाना के रामपुर लख निवासी नरेंद्र सिंह का पुत्र राजा कुमार उर्फ प्रिंस कुमार, राजेंद्र सिंह का पुत्र चंदन कुमार, बिक्रमगंज थाना अंतर्गत केशोडीह निवासी बिंदेश्वरी प्रसाद का पुत्र आशीष कुमार और नोखा थाना के रामनगर निवासी रविंद्र सिंह का पुत्र विवेक कुमार उर्फ मुन्ना कुमार शामिल है।

मुख्य सरगना पर रोहतास सहित भोजपुर में दर्ज हैं मामले

गिरफ्तार चारों लुटेरों में चंदन कुमार को पुलिस मुख्य सरगना मान रही है। आपराधिक इतिहास के अनुसार चंदन कुमार को कुख्यात लुटेरा और मर्डरर बताया जा रहा है। चंदन के विरुद्ध रोहतास के विभिन्न थानों के अलावे भोजपुर जिले में भी लूटपाट के मामले दर्ज हैं। रोहतास जिला के नोखा थाना कांड संख्या 160/21 धारा 392, कांड संख्या 119/22 धारा 392, संझौली थाना कांड संख्या 05/22 धारा 341/323/387/504/506/34 कांड संख्या 54/21 धारा 392 कांड संख्या 120/21 धारा 392 एवं 27 आर्म्स एक्ट कांड संख्या 01/22 धारा 302 हत्या एवं 27 आर्म्स एक्ट, बिक्रमगंज थाना कांड संख्या 139/18 धारा 25 (1-बी)ए/26/27/35 आर्म्स एक्ट एवं कांड संख्या 16/22 धारा 392, भानस ओपी कांड संख्या 161/21 धारा 397 एवं कांड संख्या 210/21 धारा 392 सहित भोजपुर जिला के इमादपुर में धारा 394 के तहत कांड संख्या 11/20 दर्ज है।

राजा कुमार उर्फ प्रिंस का भी है आपराधिक इतिहास

गिरोह के एक अन्य बदमाश राजा कुमार उर्फ प्रिंस कुमार का भी आपराधिक इतिहास कम नहीं है। नोखा थाना सहित जिले के विभिन्न थानों में लगभग आधे दर्जन मामले दर्ज हैं। नोखा थाना कांड संख्या 160/21 धारा 392 एवं कांड संख्या 119/22 धारा 392, संझौली थाना कांड संख्या 54/21 धारा 392 एवं कांड संख्या 120/21 धारा 392 एवं 27 आर्म्स एक्ट, बिक्रमगंज थाना कांड संख्या 16/22 धारा 392 एवं भानस ओपी कांड संख्या 161/21 धारा 392 दर्ज है।

इसके अलावा इसका आपराधिक इतिहास खंगालने में पुलिस जुटी है। वहीं विवेक कुमार का भी आपराधिक इतिहास रोहतास जिले के अलावे कैमूर में भी बताया जा रहा है, जो कि नोखा थाना कांड संख्या 309/18 धारा 341/323/379/504/34 एवं कैमूर जिला के मोहनिया सहित रोहतास जिला के संझौली थाना में आर्म्स एक्ट का मामला दर्ज है। विशेष जानकारी एकत्र करने में पुलिस की टीम जुट गयी है। बहरहाल, गिरोह का पर्दाफाश होने के बाद इलाके में अपराध पर लगाम लगने की उम्मीद जताई जा रही है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT