Header 300×250 Mobile

यौन संबंध बनाने से प्रेमिका ने किया किनारा तो प्रेमी बना हत्यारा

वारदात के एक माह बात घटना के तह में पहुँची पुलिस

- Sponsored -

989

- Sponsored -

- sponsored -

गेहूँ के खेत में मिली थी लाश, पुलिस ने किया हत्याकांड का राजफाश

कुत्सित मंशा पूरी नहीं होने पर युवती की गला घोंटकर हत्या

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट
सासाराम (voice4bihar news)। रोहतास जिला अंतर्गत दिनारा के खनिता गांव में खेत से एक माह पूर्व बरामद युवती के शव की गुत्थियों को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस जघन्य हत्याकांड से पर्दा उठाते हुए पुलिस ने हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है। हत्यारा दावथ थाना क्षेत्र के सहिनांव गांव निवासी इजहारूल हक अंसारी का पुत्र बरारूल हक अंसारी है, जो खनिता बाजार में कॉस्मेटिक दुकान चलाता है।

पुलिस के सामने कबूल किया जुर्म

गिरफ्तार हत्यारे ने पुलिस के समक्ष अपना अपराध कबूलते हुए हत्याकांड के कारणों को भी स्पष्ट कर दिया है। शुुक्रवार को एसपी आशीष भारती ने प्रेस से मुखातिब होते हुए कार्यालय कक्ष में सारी जानकारियां मीडिया के समक्ष रखी, जिसमे पुलिस कप्तान ने मृतका सोनी कुमारी और हत्याकांड के गिरफ्तार आरोपी बरारूल हक अंसारी के बीच प्रेम प्रसंग होने की स्पष्ट जानकारी दी।

रंग लाई डीआईयू सहित एसआईटी की मेहनत

विदित हो कि बीते 10 अप्रैल को दिनारा थाना क्षेत्र के खनिता गांव में गेहूँ के खेत से युवती का शव बरामद हुआ था। गेहूँ का यह खेत मृतका के घर के समीप होने के कारण मृतका की शिनाख्त शिवजी साह की पुत्री सोनी कुमारी के रूप में की गई। पुलिस ने प्रथम दृष्टया हीं गला दबाकर हत्या किये जाने को आधार मान अनुसंधान शुरू किया।

विज्ञापन

पुलिस कप्तान आशीष भारती के मुताबिक पूरी तरह से ब्लाइंड मर्डर केस में एसआईटी के साथ जिला अनुसंधान ईकाई के पुलिस पदाधिकारियों को अनुसंधान के लिए लगाया गया था, जिसमें एसआईटी के नेतृत्व बिक्रमगंज डीएसपी शशिभूषण सिंह कर रहे थे। एक माह की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस को अंततः सफलता मिली और पुलिस ने हत्यारे को दबोच लिया। दबोचे गए हत्यारे के विरुद्ध तकनीकी साक्ष्य उपलब्ध होने का दावा रोहतास पुलिस कप्तान आशीष भारती ने किया है।

यौन संबंध से इनकार करने पर खोया आपा

मृतका सोनी कुमारी और हत्याकांड के आरोपी बरारूल हक अंसारी के बीच प्रेम प्रसंग सोने के तकनीकी साक्ष्य का दावा पुलिस कप्तान आशीष भारती ने किया है। इसके अलावा गिरफ्तार आरोपी बरारूल हक अंसारी के स्वीकारोक्ति बयान से जो खुलासा हुआ है, वह चौंकाने वाला है।

स्वीकारोक्ति बयान के आधार पर पुलिस कप्तान ने मीडियाकर्मियों को बताया कि बरारूल हक अंसारी ने प्रेमिका से शारीरिक संबंध बनाए जाने का प्रयास किया था, लेकिन प्रेमिका ने ऐसा करने से किनारा कर लिया तो प्रेमी ही हत्यारा बन बैठा।

सोनी कुमारी के हत्याकांड के आरोपी प्रेमी बरारूल हक अंसारी ने अपने नाम से ही सिम कार्ड लेकर सोनी कुमारी को मोबाइल दे रखा था जिसके माध्यम से दोनों आपस में प्रेमालाप किया करते थे। सोनी कुमारी की शादी तय हो चुकी थी। प्रेमिका सोनी कुमारी के द्वारा प्रेमी बरारूल हक अंसारी को ससुराल और पति का नाम लेकर चिढाए जाने का खुलासा भी गिरफ्तार प्रेमी ने किया है।

घटना के दिन मृतका की मां पूजा करने घर से बाहर गई थी जबकि पिता और बहन कपड़े की दुकान पर थे। घर में अकेले होने का फायदा उठाकर आरोपी ने अपनी प्रेमिका सोनी कुमारी को मिलने के लिए गेहूं के खेत में बुलाया, जहां बरारूल हक अंसारी ने सोनी कुमारी से शारीरिक संबंध बनाने का प्रयास किया।

सोनी कुमारी ने शारीरिक संबंध बनाने से इन्कार किया तो वह आपा खो बैठा। सोनी कुमारी की हत्या गला दबाकर किए जाने की बात प्रेमी बरारूल हक अंसारी ने स्वीकार किया है। पूरे मामले की चर्चा जिले में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से आग की तरह फैल चुकी है और इसे लव जिहाद के तौर पर देखा जा रहा है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT