Header 300×250 Mobile

उपसरपंच शम्भू यादव हत्याकांड में पूर्व उपसरपंच व सहोदर भाई गिरफ्तार

हत्याकांड में प्रयुक्त हथियार की बरामदगी नहीं, 6 आरोपी अभी फरार

- Sponsored -

425

- Sponsored -

- sponsored -

सामुदायिक भवन में में सोये उपसरपंच को नींद से उठाकर मारी गई थी गोली

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। रोहतास जिले के संझौली थाना क्षेत्र के घिनहु ब्रह्म स्थान के पास नवनिर्वाचित उपसरपंच की हत्या के आरोप में पूर्व उपसरपंच व सहोदर भाई को गिरफ्तार किया गया है।

बिक्रमगंज प्रखण्ड के खैरा-भूधर पंचायत के नवनिर्वाचित उप सरपंच शम्भू यादव की हत्या उस वक़्त हुई थी, जब वे सामुदायिक भवन में सो रहे थे। अपराधियों ने शम्भू को नींद से जगाकर गोली मार दी थी। इस मामले में संझौली पुलिस ने पूर्व उप सरपंच धन्नू यादव को गिरफ्तार करते हुए जेल भेज दिया है।

उपसरपंच की हत्या से जनप्रतिनिधियों में दहशत

विज्ञापन

विगत शुक्रवार की देर रात सुनियोजित तरीके से सामुदायिक भवन में सो रहे बिक्रमगंज प्रखंड के खैराभूधर पंचायत के नवनिर्वाचित उप सरपंच शम्भू यादव को गोली मार हत्या करने की घटना के बाद नवनिर्वाचित पंचायत प्रतिनिधियों में दहशत का माहौल बन चुका है।

आरोपियों की गिरफ्तारी से पुलिस पर बढ़ा भरोसा

हालांकि रोहतास पुलिस कप्तान आशीष भारती के निर्देश पर हुई त्वरित कारवाई के बाद संलिप्त अपराधियों में से दो लोगों की गिरफ्तारी से लोगों का पुलिस पर भरोसा भी बढा है, लेकिन पुलिस अब तक हत्याकांड में प्रयुक्त हथियार को बरामद नहीं कर सकी है।

पूर्व उपसरपंच समेत 8 लोग नामजद

नव निर्वाचित उप सरपंच शम्भू यादव की हत्याकांड मामले में मृतक के भाई लालजी सिंह ने पूर्व उप सरपंच धन्नू यादव सहित 8 लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया था जिसके आलोक में संझौली पुलिस ने बिक्रमगंज के रौनी गांव से पूर्व उप सरपंच धन्नू सिंह और सहोदर भाई विजय सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा दिया है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT