Header 300×250 Mobile

रोहतास के 24 कॉलेजों पर एफआईआर, बगैर मान्यता के एडमिशन लेना पड़ा महंगा

भोजपुर के 13 , बक्सर के 9 एवं कैमूर के 6 कॉलेजों पर भी होगी कार्रवाई

- Sponsored -

568

- Sponsored -

- sponsored -

  • वीर कुंवर सिंह विवि ने 52 कॉलेजों पर एफआईआर के लिए दिए आवेदन
  • नियम के विरुद्ध काम करने वालों में सर्वाधिक कॉलेज रोहतास जिला के
  • एफआईआर दर्ज कराने के बाद राजभवन और शिक्षा विभाग देनी है सूचना

आरा ( voice4bihar desk ) । बिहार सरकार से बगैर मान्यता के दाखिला लेने वाले कॉलेजों पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने एफआईआर के लिए आवेदन दे दिए हैं । ऐसे कॉलेजों पर वीर कुंवर सिंह विवि प्रशासन, शिक्षा विभाग और राजभवन के निर्देश के आलोक में एफआईआर दर्ज करा दिया गया । इन कॉलेजों की सूची में कई ऐसे कॉलेज भी हैं जो पुराने व प्रतिष्ठित हैं, लेकिन मिशन एडमिशन की होड़ में ऐसे विषयों में भी दाखिला ले लिया, जिसकी मान्यता विश्वविद्यालय ने नहीं दी है। ऐसे में वीर कुंवर सिंह विवि प्रशासन को इन कॉलेजों के खिलाफ कार्रवाई के पश्चात राजभवन और शिक्षा विभाग को अवगत कराना है ।

इन संबद्ध कॉलेजों पर अब गाज गिर चुकी है । शिक्षा विभाग और राजभवन ने ऐसे कॉलेजों पर कार्रवाई का फरमान जारी कर दिया है । इसको लेकर कॉलेजों का डिटेल तैयार हो रहा था । ताकि इन कॉलेजों के सचिव और प्राचार्य पर नामजद प्राथमिकी संबधित थानों में कराई जा सके। मालूम हो कि विषय, संकाय और कॉलेज मान्यता नहीं रहने के बावजूद विद्यार्थियों का एडमिशन लिया गया था। जिसके बाद विवि ने इनका पंजीयन करा कर परीक्षा ली है । अब शिक्षा विभाग ने इसे अवैध मानते कार्रवाई का निर्देश जारी किया।

विज्ञापन

नामांकित सत्र 2015-18 और सत्र 2016-19 के विद्यार्थियों को विभिन्न अंगीभूत कॉलेजों में टैग किया गया था। विवि ने टैग का पत्र जारी कर कहा था कि राज्य सरकार से संबंधन नहीं रहने के कारण यह कदम उठाया गया है । मालूम हो कि जिन कॉलेजों और उनके यहां के विषय का विभिन्न सत्रों में संबंधन नहीं है , उनके यहां के विद्यार्थियों को मूल डिग्री देने पर भी रोक लगाई गई है । इसमें दागी कॉलेजों की लिस्ट में कुछ वैसे भी कॉलेज है, जिनका सरकार से संबंधन प्राप्त है लेकिन इनके यहां संचालित विषयों का संबंधन नहीं था, उन्हें भी टैग किया गया है।

विवि अंतर्गत आने वाले चारों जिला के कॉलेज हैं । सबसे अधिक रोहतास जिला के कॉलेज है । विवि की लिस्ट में तीन कॉलेजों को छोड़कर सभी संबद्ध कॉलेज शामिल है । इसमें भोजपुर में 13 , बक्सर में 9 कैमूर में 6 और रोहतास में 24 कॉलेज है । विश्वविद्यालय की ओर से की गयी इस कार्रवाई से संबंधित कॉलेजों के संचालकों में हड़कंप की स्थिति है।

नामांकन लेने वाले छात्रों को कोई दोष नहीं, उन्हें मिल सकती है डिग्री

विदित हो कि इन महाविद्यालयों के विद्यार्थियों को उक्त सत्र का मूल डिग्री नहीं मिल पा रही है , क्योंकि सरकार ने बिना संबंधन वाले कॉलेजों के विद्यार्थियों को डिग्री देने पर रोक लगा दिया है । कार्रवाई के बाद डिग्री मिल सकती है, क्योंकि इस प्रक्रिया में विद्यार्थियों का कोई दोष नहीं है । ऐसे कॉलेजों के प्राचार्य और दोषी कर्मियों के विरुद्ध विवि कार्रवाई सुनिश्चित करें। साथ ही कार्रवाई से अवगत कराते हुए कॉलेज की लिस्ट, नामांकित विद्यार्थियों की संख्या उपलब्ध कराया जाय विवि ने कॉलेजों के पूरे पत्ते के साथ डिटेल तैयार कर एसपी को लिस्ट सौंप दी है , ताकि इन कॉलेजों के सचिव और प्राचार्य पर नामजद प्राथमिकी संबधित थानों में कराई जा सकें।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored