Header 300×250 Mobile

पटना में बैठे नशे के सौदागर सीमांचल में भेज रहे नशीली दवाएं

अररिया में ड्रग्स के साथ पकड़े गए वैशाली के दो तस्कर

- Sponsored -

332

- Sponsored -

- sponsored -

जोगबनी के बस स्टैंड में होनी थी डिलेवरी, पटना लेकर गए थे नशीली दवा

जोगबनी (voice4bihar desk)। हाल के दिनों में भारत-नेपाल सीमा के पास बढ़ते नशीली दवाओं की तस्करी के तार राजधानी पटना से जुड़े हैं। पटना में बैठे नशे के सौदागर पूरे सीमांचल में नेटवर्क बनाकर ड्रग्स सप्लाई करने में जुटे हैं। इस काम में लगे लोगों को प्रति खेप के हिसाब से पैसे दिए जाते हैं। इस तथ्य की पुष्टि सीमा पर पकड़े गए नशे के सौदागर से पूछताछ में हुई है।

उल्लेखनीय है कि नशीली दवा का नेटवर्किंग सीमाँचल में लगातार बढ़ता जा रहा है। इससे पहले भी अररिया जिले के जोगबनी के पास टिकुलिया बस्ती हटिया सहित अन्य स्थान पूर्व से ही नशीली दवा के कारोबार के लिये प्रख्यात रहे हैं। जिस पर दो दशक से ज्यादा समय बीतने पर भी पुलिस या किसी प्रशासनिक महकमे को लगाम लगाने में कोई सफलता नहीं मिल पाई है।

विज्ञापन

सबसे खास बात यह है कि यह इलाका अति संवेदनशील अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अवस्थिति है, जहाँ स्थानीय लोगों के साथ ही नेपाल से रोजाना सैकड़ों की तादाद में नशीली दवा का सेवन व लेने के लिए आते है। आये दिन सीमा पार होते ही कोई न कोई कारोबारी या सेवनकर्ता की गिरफ्तारी नशीली दवा के साथ होते ही रहती है। जबकि सीमा पर तैनात एसएसबी 56 वी वाहनी के बीओपी द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है ।

फिर दबोचे गए नशे के सौदागर, एसएसबी ने किया गिरफ्तार
एसएसबी 56 वी वाहनी एफ कम्पनी के द्वारा सोमवार को गुप्त सूचना के आधार पर गुप्त सूचना के आधार पर पेट्रोलिंग पार्टी ने जोगबनी माहेश्वरी चौक के समीप एक निजी अस्पताल के समीप जोगबनी के तरफ आ रहे दो लोगों को पकड़ा गया। वे दोनों नशीली दवा की डिलेवरी देने आ रहे थे। एसएसबी जवानों ने उनकी रहे बैग की तलाशी ली तो 200 पीस डैलएक्स डीसी कफ सिरप ,नाइट्रावेट टेबलेट 1500 पीस, डिजालएब इंजेक्शन एप्मूल 497 पीस बरामद किया गया।

पटना से जोगबनी पहुंचाने के मिलते हैं चार हजार रुपये

नशीली दवा के साथ गिरफ्तार तस्करों की पहचान वैशाली जिले के मुहुवा थाना अंतर्गत कुनोली के 39 वर्षीय बदशुल हसन व सराय थाना निवासी 38 वर्षीय रणवीर कुमार सिंह के रूप में हुई है। तस्करों ने पूछताछ के क्रम में बताया कि वे लोग पटना से जोगबनी के बस स्टैंड में इस अवैध नशीली दवा की डिलिवरी देने आए थे। जिसके बदले चार हजार रुपये मिलना था। वही इस कार्रवाई में राहुल कौशिक , संजीव कुमार, गोपाल कुमार ठाकुर, सुशील टुडू, बिनोद कुमार कुशवाहा, सौरभ आदि जवान शामिल थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT