Header 300×250 Mobile

पटना में मॉर्निंग वाक पर निकलीं किशोरियों को सरेराह अगवा करने का प्रयास

- Sponsored -

268

- sponsored -

- Sponsored -

स्कॉर्पियो सवार मनचलों ने की गाड़ी में खींचने की कोशिश, शोर मचाने पर भागे

बेउर थाना क्षेत्र के कुरकुरी मोड़ के पास मॉर्निंग वाक के समय हुई वारदात

Voice4bihar desk. राजधानी पटना के बेउर थाना अंतर्गत अनिसाबाद-पुनपुन रोड में बुधवार की अहले सुबह मार्निंग वाक पर निकलीं दो किशोरियों के अपहरण का प्रयास हुआ। स्कॉर्पियो में बैठे मनचलों ने दोनों के हाथ पकड़कर गाड़ी में खींचना चाहा, लेकिन उनकी चीख सुनकर दौड़े अन्य लोगों को देख मनचले भाग निकले। यह घटना कुरकुरी पुल के पास अहले सुबह करीब 05:10 बजे की है। दोनों किशोरियों पास के ही एक मुहल्ले की बताई जाती हैं। बहरहाल, इस घटना की चर्चा पूरे क्षेत्र में रही और मॉर्निंग वाक पर जाने वाली महिलाओं में खौफ देखने को मिला। हालांकि इस घटना की पुलिस से शिकायत नहीं की गयी है।

विज्ञापन

दरअसल हर रोज की तरह बुधवार को भी इस रोड पर अहले सुबह मार्निंग वाक के लिए काफी संख्या में लोग पहुंचे थे। सुबह चार बजे से छह बजे तक टहलने वालों में महिलाओं की संख्या अधिक होती है, जबकि पुरुष ज्यादातर सुबह होने के बाद ही घूमने जाते हैं। घटनास्थल से दो किलोमीटर दूर ब्रह्मपुर मुहल्ले से मॉर्निंग वाक पर निकलीं महिलाओं के एक समूह ने बताया कि नदवां की तरफ से अनिसाबाद की ओर आ रही सफेद रंग की स्कॉर्पियो उनके पीछे आ रही थी।

अचानक चीखने की आवाज सुनकर पीछे मुड़कर देखा और उधर दौड़ पड़ीं। चंद कदमों की दूरी पर स्कॉर्पियो पर सवार कुछ लोग दो किशोरियों को जबरन गाड़ी में खींचने की कोशिश कर रहे थे। लड़कियां भी चीखते हुए पूरी ताकत से उनका विरोध कर रही थीं। आसपास टहल रहे अन्य लोग भी उधर दौड़े, जिन्हें देखकर अपहर्ता वहां से तेज रफ्तार में गाड़ी लेकर भाग निकले। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गाड़ी की तेज रफ्तार व हल्का अंधेरा होने की वजह से उसका नंबर नहीं देख सकीं।

प्रत्यक्षदर्शी महिलाओं ने अपनी पहचान उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि ऐसी घटना इस रोड में लगातार दूसरे दिन हुई है। मंगलवार को भी एक काले रंग की गाड़ी आगे-पीछे कर रही थी। हालांकि उस दिन ऐसी कोई वारदात नहीं सामने आई। बहरहाल, बुधवार की सुबह अगवा होने से बचीं किशोरियों को इन महिलाओं ने संभाला और पूरा माजरा जानने की कोशिश की। किशोरियों ने बताया कि वे पहली बार मॉर्निंग वाक पर निकली हैं और उनके साथ ऐसा हादसा होते-होते बचा। उन्होंने अपहर्ताओं को पहचानने से इनकार करते हुए कहा कि आइंदा मॉर्निग वाक पर नहीं आएंगे। अब देखना है कि खौफ के इस साये में कितनी महिलाएं मॉर्निंग वाक पर निकलती हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored