Header 300×250 Mobile

दरभंगा में पार्सल ब्लास्ट की गुत्थी सुलझाएगा ATS, हैदराबाद के बंजारा हिल्स से जुड़ रहे तार

दरभंगा से सिकंदराबाद तक जांच में जुटा आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS)

- Sponsored -

369

- sponsored -

- Sponsored -

दरभंगा जंक्शन के प्लेटफार्म पर पार्सल के अंदर बोतल में रखे केमिकल से लगी थी आग

पुलिस ने कहा- एफएसएल की टीम ही बताएगी कि बोतल में कौन सा केमिकल था

सूत्रों का दावा- विस्फोटक बनाने में हो सकता था इस केमिकल का इस्तेमाल

दरभंगा (voice4bihar news)। बिहार के दरभंगा जंक्शन के प्लेटफार्म पर कपड़े के पार्सल में हुआ लो डेंसिटी का विस्फोट पुलिस तहकीकात के दौरान बड़ा धमाका सामने ला सकता है। रेलवे के जरिये भेजे गए पार्सल के तार सिकंदराबाद से जुड़े होने कारण सुरक्षा व जांच एजेंसियां इसकी पूरी तफ्तीश में जुट गयी हैं। एक ओर बिहार पुलिस के एक पदाधिकारी को सिकंदराबाद भेजा गया है तो दूसरी तरफ दरभंगा में भी पुलिस, ATS व FSL की टीमों ने पड़ताल शुरू कर दी है। इतना ही नहीं सिकंदराबाद में भी आतंक निरोधी दस्ता (ATS) ने ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है।

पार्सल की बुकिंग करने वाले मोहम्मद सुफियान को सरगर्मी से तलाश रहा ATS

सूत्रों का दावा है कि आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS) ने पार्सल बुक करने वाले व्यक्ति सूफियान को सरगर्मी से तलाश रही है। बिहार के दरभंगा से लेकर तेलंगना के हैदराबाद तक छापेमारी चल रही है। इस बीच प्रारंभिक जांच में यह मामला आतंकी समूह से कनेक्शन की ओर इशारा कर रहा है। बताया जाता है कि पार्सल में भेजे गए कपड़े की खरीदारी हैदराबाद के कमर्शियल व पॉश इलाका बंजारा हिल्स से की गयी थी। इसी कपड़े के गट्‌ठर को रेलवे की पार्सल सेवा के जरिये दरभंगा भेजा गया था।

दरभंगा में पार्सल रीसिव करने वाले का नहीं है पूरा डिटेल

गौरतलब है कि बीते वर्षों में दरभंगा के कई युवाओं का नाम आतंकवादी संगठनों से जुड़ा था। इस वजह से दरभंगा में हुए विस्फोट को सुरक्षा एजेंसियों ने काफी संवेदनशीन माना है। मामले की जांच के लिए दरभंगा जीआरपी प्रभारी हारून रशीद सिकंदराबाद के लिए रवाना हो गए हैं। वहीं से यह पार्सल सिकंदराबाद दरभंगा ट्रेन से दरभंगा के लिए भेजी गई थी। जिस व्यक्ति के नाम से यह पार्सल भेजा गया था उसके बारे में पूरी जानकारी नहीं दी गई थी। जो मोबाइल नंबर दिया गया है उस नंबर को उठाने वाले व्यक्ति भी इस पार्सल पर अनभिज्ञता जता रहे हैं।

विज्ञापन

पार्सल में रखे कपड़ों की जांच करती पुलिस।

मिथिला प्रक्षेत्र के आईजी ने दरभंगा जंक्शन पर की जांच

मिथिला प्रक्षेत्र के आईजी अजिताभ कुमार ने भी शुक्रवार को दरभंगा रेलवे जंक्शन पहुंचकर मामले की जांच की। आईजी ने बताया कि सिकंदराबाद दरभंगा ट्रेन से पार्सल के रूप में एक कपड़े के गट्‌ठर में शीशे के बोतल में कोई ऐसा केमिकल पदार्थ भेज गया था, जिसने विस्फोट किया है। विस्फोट भले ही ज्यादा बड़ा नहीं था पर जांच बड़े स्तर पर चल रही है। कपड़ा के बंडल के अंदर जिस शीशी में विस्फोट होने के बाद कपड़ा में आग लगा उसमें कोई ज्वलनशील पदार्थ या विस्फोटक इसकी जांच चल रही है।

बोतल पर मिले बारकोड की भी जांच कर रही पुलिस

पार्सल में बोतल के अंदर जो बारकोड मिला है, उस पर भी जांच हो रही है। दरभंगा रेल जीआरपी के थानाध्यक्ष को सिकंदराबाद भेजा गया है, जहां वह पार्सल भेजने वाले के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे और इसकी सूचना भेजेंगे। आईजी ने बताया कि आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS) भी जांच में लग गयी है। बोतल में किस केमिकल की वजह से विस्फोट हुआ, इसकी पुष्टि एफएसएल टीम की रिपोर्ट आने के बाद ही होगी।

… तो विस्फोटक बनाने के लिए भेजा गया था केमिकल!

इस बीच सूत्रों का दावा है कि जिस केमिकल से विस्फोट हुआ, वह बम बनाने में इस्तेमाल होता है। संभव है कि नमूने के तौर पर एक बोतल केमिकल दरभंगा मंगाया गया हो। जिसके वेरिफाई होने के बाद केमिकल की पूरी खेप सिकंदराबाद से यहां मंगाई जाती। इसका इस्तेमाल विस्फोटक बनाने के लिए किया जाना था, लेकिन दरभंगा जंक्शन पर हुए विस्फोट के बाद इस मामले में नया मोड़ आ गया।

यह भी पढ़ें : बिहार में फिर बम विस्फोट, बांका के बाद अररिया भी दहला

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT