Header 300×250 Mobile

झुन्नी चौधरी हत्याकांड में पांडे गिरोह का शार्प शूटर गिरफ्तार

पांच साल से पहचान छुपाकर रह रहा था शूटर राहुल शुक्ला

- Sponsored -

366

- Sponsored -

- sponsored -

वर्चस्व को लेकर पांच साल पहले हुई थी झुन्नी चौधरी की हत्या

अभिषेक कुमार सुमन के साथ बजरंगी कुमार की रिपोर्ट

सासाराम (voice4bihar news)। अति पिछड़ी नोनिया जाति से ताल्लुक रखने वाले करगहर के झुन्नी लाल चौधरी हत्याकांड में शामिल पांडे गिरोह के शार्प शूटर को रोहतास पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी कैमूर जिले से हुई है। शूटर कैमूर जिला अंतर्गत मोहनियां थाना क्षेत्र के शुकुल पिपरा गांव का निवासी राहुल शुक्ला है।

पूरे मामले की जानकारी देने सहित शूटर होने की पुष्टि करते हुए रोहतास पुलिस कप्तान आशीष भारती ने बताया कि करगहर इलाके से संचालित अंतर्राज्यीय कुख्यात पांडेय गिरोह के सदस्य के तौर पर रोहतास के सीमावर्ती जिले सहित कई अन्य राज्यों में अपराधिक घटनाओं को अंजाम देने में संलिप्त रहा है। राहुल की गिरफ्तारी को रोहतास पुलिस बडी सफलता मान रही है।

विज्ञापन

पैक्स अध्यक्ष विजेंद्र यादव हत्याकांड की जांच के दौरान पुलिस के हाथ लगी राहुल शुक्ला की कुंडली

दरअसल, हाल ही में राजद नेता एवं पैक्स अध्यक्ष बिजेंद्र यादव हत्याकांड की तहकीकात के दौरान रोहतास पुलिस जरायम की दुनियां खंगाल रही थी। इसी दरम्यान राहुल की कुंडली हाथ लगी और पुलिस ने उसे दबोच लिया। पुलिस टीम के मुताबिक राहुल कुख्यात पांडेय गिरोह का सदस्य रहा है, जो विगत पांच साल से पहचान छुपा कर रह रहा था।

पांच साल पूर्व हुई थी झुन्नी चौधरी की हत्या

झुन्नी लाल चौधरी की हत्या रोहतास के करगहर बाजार में सरेशाम 14 जून 2017 को ताबड़तोड़ गोली मार की गयी थी। इलाके में वर्चस्व को लेकर यह हत्या किये जाने की बात सामने आयी थी, जिसमें मुख्य सरगना धनजी पांडेय सहित तीन लोगों को पूर्व में पुलिस जेल भेज चुकी है। इस मामले में आज चौथे संलिप्त अपराधी के तौर पर राहुल की गिरफ्तारी हुयी है।

इस मामले में अभी और गिरफ्तारियों के संकेत पुलिस महकमे ने दिये हैं, जिसके लिए तकनीकी अनुसंधान की टीम की सक्रियता पर पुलिस कप्तान ने हामी भरी है। झुन्नी चौधरी हत्याकांड मामले में दिनांक 15 जून 2017 को करगहर थाना कांड संख्या 168/17 दर्ज कराते हुए परिजनों ने सात-आठ हथियारबंद अज्ञात अपराधियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी थी। इसके अलावे राहुल के विरुद्ध सासाराम नगर थाना कांड संख्या 998/17 और राजपुर थाना कांड संख्या 16/21 दर्ज अपराधिक इतिहास के तौर पर दर्ज है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored