Header 300×250 Mobile

एक अरब का यूरेनियम लेकर भारत से पहुंचे नेपाल, 2.8 किलोग्राम यूरेनियम के साथ 8 शातिर गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपितों में बिहार के गया निवासी उपेंद्र मिश्रा व मोतिहारी का राजू भी शामिल

- Sponsored -

564

- sponsored -

- Sponsored -

रेडियो एक्टिव पदार्थ की अंतरराष्ट्रीय तस्करी की सूचना से सुरक्षा एजेंसियों के होश उड़े

नेपाल में दूसरी बार पकड़ा गया है यूरेनियम, दोनों बार भारत से भेजी गयी थी खेप

नेपाल से राजेश कुमार शर्मा की रिपोर्ट

Voice4bihar news. रेडियो एक्टिव पदार्थ यूरेनियम की बड़ी खेप भारत से ले जाकर नेपाल में बेचने की तैयारी में लगे आठ तस्करों को गिरफ्तार कर लिया गया है। न्यूक्लीयर रिएक्टर के अलावा विस्फोटक में उपयोग होने वाले इस धातु की अवैध बिक्री की सूचना ने सुरक्षा एजेंसियों के होश उड़ा दिये हैं। नेपाल पुलिस ने राजधानी काठमांडू के बौद्ध स्थित हायात रिजेन्सी होटल परिसर से यूरेनियम के साथ जिन आठ लोगों को पकड़ा है, उनमें एक भारतीय नागरिक भी शामिल है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यूरेनियम के संकलन, भण्डारण तथा विक्री वितरण की विशेष सूचना के आधार पर नेपाल पुलिस ने यह कार्रवाई की। सूचना मिलते ही नेपाल पुलिस के प्रधान कार्यालय से सादे पोशाक में पुलिस बृत्त बौद्ध की संयुक्त टीम के साथ छापेमारी करने पहुंची। यह घटना बीते शनिवार (12 फरवरी) की है। इस दौरान यूरेनियम की खेप पहुंचाने वाला मोतिहारी निवासी राजू कुमार पुलिस के हाथ नहीं लगा, जिसे पकड़ने की कोशिश हो रही है।

होटल परिसर में खड़ी कार में रखा था यूरेनियम

पुलिस की विशेष टीम ने होटल हायात के पार्किंग में खड़ी एक कार की तलाशी ली। इसके अंदर से 2 किलोग्राम 800 ग्राम यूरेनियम के साथ सिन्धुपाल्चोक निवासी 34 वर्षीय भूपेन्द्र खड्का व ललितपुर निवासी 60 वर्षीय नवराज महतो को गिरफ्तार किया था। इन लोगों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि यूरेनियम पदार्थ भारत से लाकर नेपाल में प्रति किलो 35 करोड़ में बेचने का सौदा किया था। बरामद यूरेनियम का सेंपल जांच के लिए नेपाल पुलिस ने भारत भेजा था, जिसकी रिपोर्ट मंगलवार को आने के बाद पुलिस ने मीडिया से जानकारी साझा की।

विज्ञापन

गिरफ्तार तस्करों की निशानदेही पर छह को पुलिस ने पकड़ा

होटल हयात से गिरफ्तार यूरेनियम तस्करों की निशानदेही पर इनके साथ रहे अन्य 6 लोगों को भी नेपाल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इनमें सिन्धुपाल्चोक निवासी 40 वर्षीय रामकृष्ण लामिछाने, सिराहा निवासी 40 वर्षीय गोपिलाल दास, 55 वर्षीय जिवछ नारायण यादव, महोत्तरी निवासी 38 वर्षीय सुरेन्द्र प्रसाद चौधरी, महोत्तरी एकाडारा के 44 वर्षीय राजु ठाकुर, बिहार स्थित गया के चनादहोता निवासी 63 वर्षीय उपेन्द्र कुमार मिश्र की गिरफ्तारी की गयी है ।

यूरेनियम का पेडलर निकला बिहार का राजू

इन सभी के अलावा बिहार के मोतिहारी निवासी राजू कुमार को यूरेनियम का पेडलर बताया गया है। अपुष्ट खबरों के अनुसार पुलिस ने इसे भी पकड़ लिया है। सभी आरोपियों के खिलाफ ‘रेडियोधर्मी पदार्थ (उपयोग तथा नियमन) कानून के अन्तर्गत मामला दर्ज कर लिया गया है। काठमांडू पुलिस प्रवक्‍ता एसपी दिनेशराज मैनाली ने बताया कि पुलिस ने इन्हें अदालत में पेश करने के बाद सात दिन के रिमांड ले कर पूछताछ शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें : नेपाल में छह अरब के यूरेनियम का डेढ़ अरब में हुआ सौदा

नेपाल में यूरेनियम बरामदगी की यह दूसरी घटना

उल्लेखनीय है कि हाल के वर्षों में नेपाल में यूरेनियम बरामद होने की यह दूसरी घटना है। इससे पहले भी झारखंड में तैनात एक सुरक्षाकर्मी को यूरेनियम की खेप नेपाल पहुंचाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। हालांकि नेपाल पुलिस अब तक यह बताने में असमर्थ रही है कि भारत से नेपाल में यूरेनियम लाने का मकसद क्या था? जानकारों का मानना है कि इस तरह के रेडियो एक्टिव तत्वों का प्रयोग परमाणु रिएक्टर व विस्फोटक के रुप में होने के साथ ही मेडिकल क्षेत्र में भी इस्तेमाल होता है। पूरा मामला पुलिस जांच के बाद ही सामने आ सकेगा।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored