Header 300×250 Mobile

अगस्त में हो जायेगी हाई और प्ल्स टू स्कूलों में 30,020 शिक्षकों की बहाली

छठे चरण की बहाली के लिए शिक्षा विभाग ने जारी किया शिड्यूल

- Sponsored -

791

- sponsored -

- Sponsored -

चयनित अभ्यर्थियों की सूची 13 अगस्त तक संबंधित जिले की एनआईसी पर हो जायेगी जारी

पटना (Voice4bihar desk)। बिहार में चल रही करीब 94,000 प्राथमिक शिक्षक बहाली प्रक्रिया के बीच यहां के हाई और प्ल्स टू स्कूलों के लिए भी 30,020 शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया एक बार फिर शुरू हो गयी है। शिक्षा विभाग ने हाई और प्ल्स टू स्कूलों में शिक्षक बहाली के लिए शुक्रवार को छठे चरण का शिड्यूल जारी कर दिया। इसके अनुसार, आठ जुलाई तक मेधा सूची बना ली जायेगी और 13 अगस्त तक चयनित अभ्यर्थियों की सूची संबंधित जिले की एनआईसी पर जारी कर दी जायेगी। नियुक्ति पत्र वितरण की तिथि बाद में की जायेगी।

वर्ष 2019 में शुरू हुई प्रक्रिया पर पटना हाईकोर्ट ने लगा दी थी रोक

यहां बता दें कि हाई और प्ल्स टू स्कूलों में छठे चरण की शिक्षक नियुक्ति के लिए बहाली प्रक्रिया वर्ष 2019 में शुरू हुई थी। छात्रों ने आवेदन कर दिया था और मेधा सूची निर्माण का कार्य जारी था। पर इसी दौरान नेशनल ब्लाइंड फेडरेशन की याचिका सीडब्लूजेसी 4975 / 2020 की सुनवाई करते हुए पटना हाईकोर्ट ने 24.07.2020 को नियोजन की पूरी प्रक्रिया (प्रारंभिक से लेकर प्लस टू तक) को तत्काल प्रभाव से स्थगित कर दिया था। पिछले महीने 03.06 को हाईकोर्ट ने मामले का निष्पादन करते हुए बहाली प्रक्रिया पूरी करने का आदेश दिया था।

साथ ही हाईकोर्ट ने दिव्यांगों को 15 दिन का आवेदन करने के लिए अलग से मौका दिया था। इसके तहत पूरे राज्य में दिव्योंगों को 11 जून से 15 जून तक नियोजन इकाइयों में आवेदन करने का मौका दिया गया था। इसके बाद की प्रक्रिया का शिड्यूल शिक्षा विभाग की ओर से शुक्रवार को जारी किया गया।

पांच जिला परिषद में किसी दिव्यांग ने नहीं किया आवेदन

समीक्षा में विभाग ने पाया है कि जिला परिषद् सीवान, अरवल, नवादा, बांका एवं गोपालगंज में दिव्यांगजनों ने 11 से 25 जून के बीच आवेदन नहीं दिया गया । इन नियोजन इकाईयों द्वारा अनुमोदित मेधा सूची एवं रोस्टर बिन्दु के आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची का प्रकाशन किया जा चुका है।

विज्ञापन

गया नगर निगम समेत कई नगर परिषद व नगर पंचायतों में भी नहीं आया आवेदन

नगर निगम गया / नगर परिषद् नवादा, बांका, सीवान, अरवल, सहरसा, औरंगाबाद, दाउदनगर, हाजीपुर , लालगंज एवं महुआ / नगर पंचायत खुसरूपुर, हिसुआ, वारसलीगंज, अमरपुर, मैरवा, महाराजगंज, सिमरी बख्तियारपुर, रफीगंज, नबीनगर, कांटी, मोतिपुर एवं साहेबगंज में दिव्यांगजनों ने आवेदन नहीं दिया है। इन निर्योजन इकाईयों द्वारा भी अनुमोदित मेधा सूची एवं रोस्टर बिन्दु आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची का प्रकाशन किया जा चुका है ।

नगर परिषद् फुलवारीशरीफ एवं मसोढ़ी, नगर पंचायत खुसरूपुर, मनेर बख्तियारपुर में मेधा सूची के अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र का मिलान करते हुए नियोजन समिति द्वारा मेधा सूची का अनुमोदन कर उसे सार्वजनीकृत किया जा चुका है । नगर पंचायत, फतुहा में मेधा सूची के अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र का मिलान किया गया है परन्तु नियोजन समिति द्वारा उसे अनुमोदित नहीं किया गया है।

मेधा सूची का प्रकाशन होने के बाद अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र की जांच तक की कार्रवाई जिन नियोजन इकाई द्वारा नहीं की गई हो और संबंधित नियोजन इकाई में दिव्यांगजनों द्वारा अभ्यावेदन समर्पित नहीं किया गया हो अथवा दिव्यांगजनों द्वारा आवेदन समर्पित किया गया हो, के संबंध में नियोजन से संबंधित गतिविधि अलग से निर्धारित की गयी है।

13 जुलाई तक जारी हो जायेगी औपबंधिक मेधा सूची

जारी शिड्यूल के अनुसार औपबंधिक मेधा सूची की तैयारी 08-07, औपबंधिक मेधा सूची का नियोजन समिति द्वारा अनुमोदन 10-07 तक, औपबंधिक मेधा सूची का प्रकाशन 12-07 तक, औपबंधिक मेधा सूची पर आपत्ति 28-07 तक, आपत्तियों का निराकरण 30-07 तक,  मेधा सूची का अंतिम प्रकाशन 31-07 तक,  04 08 अगस्त को मेधा सूची के अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र का मिलान / जांच और 06-08 तक जिला परिषद / शहरी निकाय के नियोजन समिति द्वारा मेधा सूची का 10-08-2021 तक,  अनुमोदन और नियोजन इकाई द्वारा मेधा सूची का सार्वजनीकरण अनुमोदित मेधा सूची एवं रोस्टर बिन्दु के आधार पर चयनित अभ्यर्थियों की सूची तथा विद्यालयवार एवं विषयवार रिक्ति का जिला के NIC के वेबसाईट पर प्रकाशन 13-08-2021 तक कर दिया जायेगा।

नये सिरे से प्रमाण पत्रों के मिलान के लिए केवल दिव्यांग अभ्यर्थियों को ही आना होगा

वैसी नियोजन इकाई में,  जहां पूर्व से अनुमोदित मेधा सूची के अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र का मिलान / जांच का कार्य हो चुका हो और दिव्यांगजन द्वारा नया आवेदन देने के कारण संशोधित मेधा सूची के आधार पर मेधा सूची के अभ्यर्थियों के मूल प्रमाण पत्र का मिलान / जांच किया जाना आवश्यक हो तो पूर्व की मेधा सूची के अभ्यर्थियों को सम्मिलित होने की आवश्यकता नहीं होगी । इसमें सिर्फ दिव्यांग श्रेणी के अभ्यर्थी, जिनका नाम संशोधित मेधा सूची में सम्मिलित हो, वे ही उपस्थित होंगे । नियोजन से संबंधित उक्त गतिविधि पूर्ण होने के बाद जिला स्तर पर नियोजन इकाई द्वारा काउंसिलिंग के माध्यम से नियुक्ति पत्र वितरण हेतु तिथि का निर्धारण अलग से किया जाएगा ।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored