Header 300×250 Mobile

पटना पुलिस ने पत्नी को नंगा करने की धमकी देकर कबुलवाया जुर्म!

रूपेश की हत्या के आरोपित ऋतुराज की पत्नी ने लगाये सनसनीखेज आरोप

- Sponsored -

744

- Sponsored -

- sponsored -

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने पूछा है कि जब पीड़ित और आरोपित दोनों CBI जांच चाहते हैं तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को क्या परेशानी है। रविवार को अपने ट्वीटर हैंडल पर तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार जी और उनकी पुलिस संतुलन और साख दोनों खो चुके है। रूपेश हत्याकांड में गिरफ़्तार कथित मुख्य आरोपी और रूपेश के परिजन दोनों ही CBI जांच की मांग कर रहे हैं फिर मुख्यमंत्री को क्या दिक़्क़त है? क्या देरी इसलिए की जा रही है ताकि बाक़ी बचे सबूत नष्ट करवा सके? CM जवाब दें।

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा कि नीतीश सरकार का निकम्मापन और नंगापन देखिए। रूपेश हत्याकांड में अपने चेहते को बचाने के लिए कैसे-कैसे तिकड़मों का सहारा ले रहे हैं। मुख्यमंत्री को तत्काल गृह विभाग छोड़ देना चाहिए। वो थक हार कर बिहार पर बोझ बन चुके हैं उनसे कुछ नहीं संभल रहा।

असल में तेजस्वी का यह गुस्सा रविवार को एक न्यूज पोर्टल पर चल रहे उस इंटरव्यू के बाद सामने आया जिसमें कथित हत्यारोपित की पत्नी ने पटना पुलिस और यहां के एसएसपी पर शर्मशार करने वाले आरोप लगाये हैं। पटना में गत 12 मार्च को इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या कर दी गयी थी। इस मामले में पुलिस ने पिछले हफ्ते रामकृष्णा नगर के ऋतुराज को गिरफ्तार कर मीडिया के सामने पेश किया था। पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने मीडिया को बताया था कि ऋतुराज ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर रूपेश की हत्या की थी।

यहां तक तो लोग मान भी लेते पर हत्या का कारण उन्होंने जो बताया उस पर न तो मीडिया को यकीन हुआ और न ही आम लोगों को। यहां तक की रूपेश की पत्नी, बहन और भाई ने भी पुलिस की कहानी को मनगढ़त बताया। एसएसपी ने कहा कि दो महीने पहले हुई रोडरेज की एक घटना से खार खाए ऋतुराज ने अपने साथियों के साथ मिलकर रूपेश की हत्या कर दी। रूपेश के परिजनों का कहना है कि यह विश्वास करने लायक नहीं है कि रोडरेज जैसी मामूली घटना के लिए कोई दो महीने तक पीछा कर किसी की हत्या करे।

प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान तो ऋतुराज ने पूछे जाने पर मीडिया से कहा कि एसएसपी साहब जो कह रहे हैं सो 100 फीसद सही है पर इसके पीछे की जो कहानी अब ऋतुराज की पत्नी बता रही है वह पटना पुलिस के लिए शर्मनाक है। ऋतुराज की पत्नी ने एक न्यूज पोर्टल को बताया है कि पुलिस ने उसके कपड़े उतारवर कर उसके बेगुनाह पति से हत्या करने की बात कबुलवायी है।

ऋतुराज की पत्नी ने बताया है कि पिछले शनिवार को पटना पुलिय आयी और उसके बेड रूम में हथियार रख कर उस पर हथियार रखने कर इल्जाम लगाया और पति को गिरफ्तार कर ले गयी। थोड़ी देर में पुलिस दोबारा आयी और उसे भी ले गयी। उसने जब जाने से इनकार किया तो पुलिस ने उसे बाल पकड़कर खींचते हुए गाड़ी मे बैठाया। ऋतुराज की पत्नी के अनुसार, पुलिस उसे हवाई अड्डा ले गयी जहां पहले से ही ऋतुराज को ले जाकर रखा गया था।

पुलिस ऋतुराज पर रूपेश की हत्या में शामिल होने की बात कबूल करने के लिए दबाव बना रही थी पर वह इसके लिए तैयार नहीं था। ऋतुराज की पत्नी का कहना है कि उसके पति पर दबाव बनाने के लिए पुलिस उसका इस्तेमाल कर ही थी। पहले तो पुलिस ने ऋतुराज की पत्नी को उसके घुटने और शरीर के अन्य हिस्सों पर रॉड से मारा। ऋतुराज जब इस पर भी नहीं माना तो पुलिस ने उसके सामने ही पत्नी को नंगा करने की धमकी दी।

विज्ञापन

ऋतुराज की पत्नी की मानें तो एक पुलिसकर्मी ने उसके शॉल हटाये और फिर स्वेटर भी खोल दिया। इसके बाद ऋतुराज हत्या में खुद के शामिल होने की बात कबूल करने के लिए तैयार हो गया। बाद में संवाददाता सम्मेलन में जब उससे मीडिया के लोगों ने पूछा तो उसने कहा भी कि एसएसपी साहब जो कह रहे हैं वह सौ फीसद सही है। ऋतुराज की पत्नी ने कहा कि जब पति के सामने पत्नी को नंगा किया जायेगा तो वो तो बोलेगा ही कि हां, हम किये हैं। ऋतुराज की पत्नी ने कहा कि इस पूरी घटना के वक्त एसएसपी उपेंद्र शर्मा वहां मौजूद थे।

उसने कहा कि पुलिस ने उसे दो दिन और दो रात रोक कर रखा। इसके बाद घर जाने दिया। पुलिस अब भी उसके पूरे परिवार के पीछे लगी हुई है और घर के आस पास रहती है। एक दिन पहले जब वह अस्पताल गयी तो पुलिस वहां भी आ धमकी और उसकी पर्ची लेकर उसे देखा। ऋतुराज की पत्नी और उसकी मां की मानें तो पलिस ने ऋतुराज के पिता के साथ भी मारपीट की है।

पटना पुलिस के कुकर्म से चढ़ा राजनीतिक पारा

ऋतुराज की पत्नी का बयान सामने के बाद राजनीतिक तापमान चढ़ गया है। निशाने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पटना पुलिस है। जहां नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा है कि CBI जांच में देरी सबूत नष्ट करने के लिए की जा रही है वहीं जाप प्रमुख पप्पू यादव ने कहा है कि वे पटना पुलिस को छोड़ने वाले नहीं हैं। उन्होंने अपने इस आरोप को फिर दुहराया कि रूपेश सिंह की हत्या में बड़े-बड़े अधिकारी का हाथ है। सरकार उन्हें बचाना चाहती है। लोजपा सुप्रीमो ने कहा कि सत्ता में बैठे लोग रूपेश की हत्या के साजिशकर्ता को बचा रहे हैं।

रूपेश के परिजन सीएम से मिले

रविवार को रूपेश के परिजनों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर न्याय दिलाने की मांग की। रूपेश की पत्नी, बच्चे, बहन और भाई मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पर पहुंचे थे। इस मुलाकात के वक्त बिहार के पुलिस प्रमुख एसके सिंघल और पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा भी मौजूद थे। बता दें कि एक दिन पहले एसएसपी शर्मा रूपेश के परिजनों से मिलने उनके घर छपरा गये थे।

रविवार को हुई मुलाकात में रूपेश के परिजनों ने मुख्यमंत्री से मांग की कि अपराधी छोटा हो या बड़ा उसे सामने लाया जाये और स्पीडी ट्रायल चलाकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाये। मुख्यमंत्री से मिलकर बाहर निकले रूपेश के भाई ने कहा कि मामले का खुलासा नहीं होने पर वे CBI जांच की मांग करेंगे। साथ ही उन्होंने पुलिस के उस तर्क से असहमति जतायी कि रोडरेज की घटना के दो महीने बाद कोई किसी की हत्या कर सकता है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT