Header 300×250 Mobile

राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा देने वाले पहले मुसलमान बने गुरु रहमान

राम मंदिर निर्माण

- Sponsored -

472

- sponsored -

- Sponsored -

गुरु रहमान ने राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के सचिव कामेश्वर चौपाल का सौंपा 51 हजार का चेक

पटना (voice4bihar Desk)। प्रतियोगिता परीक्षाओं के शिक्षक गुरु रहमान उर्फ डॉ. एम. रहमान ने अयोध्या में बन रहे राम मंदिर निर्माण के लिए 51 हजार रुपए दान दिये हैं। उन्होंने दान का चेक राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट के सचिव कामेश्वर चौपाल को सौंपा। कामेश्वर चौपाल बिहार के उन लोगों में से हैं जिन्होंने राम मंदिर निर्माण की नींव रखी थी।

विज्ञापन

कामेश्वर चौपाल ने गुरु रहमान को बताया कि वे देश के पहले मुसलमान हैं जिन्होंने राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा दिया है। एक मुसलमान होकर राम मंदिर निर्माण के लिए दान करने पर गुरु रहमान ने कहा कि राम की जन्मस्थली अयोध्या मानी जाती है। देश की 85 प्रतिशत आबादी की आस्था पुरुषोत्तम राम से जुड़ी हुई है। भगवान राम इंसान से भगवान बने। भगवान राम का चरित्र किसी धर्म विशेष या समाज के लिए नहीं बल्कि पूरे विश्व के लिए अनुकरणीय है।

उन्होंने कहा कि भगवान राम त्याग, बलिदान, करुणा, भातृत्व और शौर्य के प्रतीक हैं। इसलिए मैंने राम मंदिर निर्माण के लिए दान देने का निर्णय लिया। मैं अपने धर्म के दूसरे लोगों से भी मंदिर निर्माण के लिए आगे आने की अपील करता हूं। इससे देश में भाईचारा बढ़ेगा।

गौरतलब है कि गुरु रहमान पर हिन्दी फिल्म बन रही हैं। इस वर्ष के अंत तक फिल्म के आ जाने की संभावना है। डॉ. रहमान ने हिन्दु कन्या से शादी की लेकिन पत्नी का सम्मान करते हुए बच्चों को हिन्दु ही रहने दिया। डॉ. खुद भी हिन्दु धर्म के पूजा-पाठ में शामिल होते हैं। यहां तक की अपने कोचिंग एम सिविल सर्विस में सुंदरकांड का पाठ करवाते हैं। वहां वे सरस्वती पूजा भी करवाते हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored