Header 300×250 Mobile

कोरोना से आईएएस अधिकारी और विप सहायक की मौत

बिहार में 24 घंटे में कोरोना से 15 लोगों की हुई मौत

- Sponsored -

558

- Sponsored -

- sponsored -

पटना (Voice4bihar desk) सूबे में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमित 15 मरीजों की मौत हो गयी। मरने वालों में पंचायती राज विभाग में तैनात एक आईएस अधिकारी और विधान परिषद के एक कर्मी भी शामिल हैं। विधान परिषद के अब तक कुल 18 कर्मी पॉजिटिव पाये गये हैं। विधान परिषद के  सभापति ने 18 अप्रैल तक परिषद कार्यालय को बंद कर दिया है। विधान सभा के 11 कर्मी भी पॉजिटिव पाये गये हैं।

विधान परिषद के मृत कर्मी का नाम विजेंद्र कुमार शर्मा है। इसके पहले परिषद के एक अन्य कर्मी अरुण राम की भी मौत कोरोना संक्रमण से हो चुकी है। इनके अलावे मंगलवार को पंचायती राज विभाग में तैनात आईएएस अधिकारी विजय रंजन की मौत पटना एम्स में हो गयी। वे काफी समय से बीमार थे। सात अप्रैल से पटना एम्स में उनका इलाज चल रहा था। पटना एम्स में पटना के किदवईपुर के 84 वर्षीय कृष्ण चंद्र सिंह की भी मौत कोरोना से मौत हो गयी।

अस्पतालों में आईएएस अधिकारी तैनात

इस बीच अस्पतालों में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य सरकार ने यहां आईएएस अधिकारियों को तैनात किया है। पीएमसीएच में राजीव रौशन, एनएमसीएच में पंकज दीक्क्षित और पटना एम्स में राज कुमार को तैनात किया गये है। ये आईएएस अधिकारी वहां की व्यवस्था को सुचारू रखने में अस्पताल प्रबंधन की मदद करेंगे।

पीएमसीएच में सात, एनएमसीएच में चार और पटना एम्स में दो की मौत

सात मरीजों की मौत पीएमसीएच, चार की एनएमसीएच में और दो की पटना एम्स में ई। पटना सिटी स्थित एनएमसीएच में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमित मृतकों में बेगूसराय के शिवेदेव सिंह, नवादा के चंद्र सिंह, सिवान के नागेंद्र साह और नालंदा की फुलबसो देवी शामिल हैं। एक अन्य मरीज की हालत गंभीर है और उसे आईसीयू में वेंटीलेटर पर रखा गया है।

विज्ञापन

यहां 34 अन्य मरीजों को भी गंभीर स्थिति के कारण ऑक्सीजन की मदद अलग से दी जा रही है। एनएमसीएच में मंगलवार को नौ मरीज डिस्चार्ज हुए जबकि पांच एडमिट किये गये। अस्पताल में फिलहाल 88 मरीजों का इलाज चल रहा है। शाम चार बजे तक यहां 12 बेड खाली थे। पटना एम्स में पिछले 24 घंटे में 17 नये मरीज भर्ती किये गये जबकि नौ डिस्चार्ज किये गये। यहां फिलहाल कुल 112 कोराेना संक्रमित मरीजों का इलाज चल रहा है। पटना एम्स में मंगलवार को 2233 मरीजों की जांच की गयी। इनमें 192 कोरोना संक्रमित पाये गये।

स्वास्थ्य मंत्री ने लिया एनएमसीएच का जायजा

इस बीच मंगलवार को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने एलएमसीएच जाकर वहां के हालात का जायजा लिया। इस मौके पर उन्होंने अस्पताल का प्रबंधन बेहतर करने की हिदायत दी साथ ही कहा कि राज्य में संक्रमितों के इलाज में कसी प्रकार की कमी नहीं होने दी जायेगी।

महाराष्ट्र से आयी ट्रेनों में 36 कोरोना संक्रमित यात्री मिले

दानापुर मंडल के विभिन्न स्टेशनों पर महाराष्ट्र से आयी ट्रेनों से मंगलवार को 36 कोरोना मरीज पहुंचे। इन मरीजों को जांच में पुष्टि होने के बाद आइसोलेशन सेंटर भेज दिया गया है। इन ट्रेनों से मंगलवार को कुल 2010 यात्री दानापुर, पटना जंक्शन और पाटलिपुत्र स्टेशनों पर उतरे।

रेल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मंगलवार को पुणे से चलकर दानापुर पहुंची ट्रेन में कुल 514 यात्री दानापुर में उतरे। इनमें 11 यात्री कोरोना संक्रमित पाये गये। पुणे से ही दानापुर आयी एक अन्य ट्रेन में 697 यात्रियों में से 10 कोरोना संक्रमित पाये गये। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से मंगलवार को तीन ट्रेनें पाटलिपुत्र स्टेशन पहुंचीं। इनमें से एक ट्रेन में सवार 474 यात्रियों में से चार, देसरी ट्रेन में सवार 255 यात्रियों में से 12 और तीसरी ट्रेन में सवार 36 यात्रियों में से एक कोरोना संक्रमित पाये गये। लोकमान्य तिलक टर्मिनस से ही मंगलवार को आये 34 ट्रेनों में से काई भी कोरोना संक्रमित नहीं पाया गया।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT