Header 300×250 Mobile

टीकाकरण और लॉकडाउन के सहारे देश में कोरोना से जंग जारी

देश में कोरोना वायरस के नए डबल म्यूटेंट वैरियंट का पता चला

- Sponsored -

286

- sponsored -

- Sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। देश में कोरोना से दोतरफा जंग जारी है। एक ओर जहां लोगों को इस संक्रमण से बचाने के लिए टीकाकरण, लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू जैसे उपाय किये जा रहे हैं वहीं कोरोना ने भी अपने फैलने की रफ्तार तेज कर दी है। मंगलवार को पांच लाख से अधिक लोगों को टीके लगाये गये जबकि पिछले 24 घंटे में देश में 47,262 नये कोरोना पॉजिटिव मामले मिले हैं।

बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान भी कोराना संक्रमित पाये गये हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में ही कोराना से 275 लोगों की मौत हो गयी। देश में अब तक1,17,34,058 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं जिनमें 3,68,457 ऐक्टिव केस हैं। अबतक कुल 1,60,441 लोग इस संक्रमण देश में कोरोना वायरस के नए डबल म्यूटेंट वैरियंट का पता चला के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं।

देश में कोरोना वायरस के नए डबल म्यूटेंट वैरियंट का पता चला

इस बीच, देश में कोरोना वायरस के नए डबल म्यूटेंट वैरियंट का पता चला है। हालांकि केंद्र सरकार ने कहा कि अभी देश में इसके इतने ज्यादा मामले सामने नहीं आए हैं कि उसे कई राज्यों में केसेज बढ़ने से जोड़कर देखा जा सके। कोराना महाराष्ट्र, गुजरात, पंजाब और मध्यप्रदेश जैसे राज्यों में तेजी से फैल रहा है। इन राज्यों की सरकारें कोरोना से निपटने की हर संभव कोशिश में जुटी हुई है।

महाराष्ट्र के नांदेड़ और बीड़ में चार अप्रैल तक के लिए लगा लॉकडाउन

महाराष्ट्र के नांदेड़ और बीड़ में चार अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन लगा दिया गया है। यहां केवल जरूरी सामान की दुकानें सुबह सात बजे से दोपहर 12 बजे तक खोलने की अनुमति दी गयी है। इसके पहले महाराष्ट्र के परभणी जिले में एक हफ्ते का लॉकडाउन लगाया गया था जिसकी सम सीमा 31 मार्च को समाप्त हो रही है।

विज्ञापन

देश की राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों के मद्देनजर दिल्ली सरकार ने मॉल, सिनेमाघरों, साप्ताहिक बाजारों, मेट्रो सेवाओं और धार्मिक स्थानों को संक्रमण फैलाने वाला सबसे संवेदनशील क्षेत्र बताया है। सरकार ने सभी जिलाधिकारियों को इन जगहों पर कोविड-19 संबंधी दिशा-निर्देशों को लागू करने का प्रयास तेज करने का निर्देश दिया है।

त्योहारों पर फैसले ले सकतीं हैं राज्य सरकारें

इधर, केंद्रीय अतिरिक्त स्वास्थ्य सचिव ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को चिट्ठी लिखी है। चिट्‌टी में सलाह दी गई है कि राज्य होली, शब-ए-बरात, बीहू, ईस्टर, ईद-उल-फित्र जैसे त्योहारों को देखते हुए स्‍थानीय स्तर पर पाबंदियां लगा सकते हैं।

बिहार में कोराना के हालात अन्य राज्यों से बेहतर

बिहार के हालात कोरोना के मामले में अन्य राज्यों की तुलना में बेहतर कहे जा सकते हैं। यहां मंगलवार को कोरोना के कुल 111 नये मामले सामने आये हैं जिनमें 50 पटना के हैं। बिहार में कोरोना के फिलहाल कुल 623 एक्टिव केस हैं। बिहार में अब तक कुल 2,63,770 कोरोना संक्रमित मामले सामने आये हैं जिनमें 1,563 की मौत हो चुकी है। बिहार में अब तक 21,11,419 लोगों का टीकाकरण किया गया है। इनमें 17,10,415 लोगों को पहली खुराक जबकि 4,01,004 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी है।

मंगलवार को बिहार में 98,191 लोगों ने लगवाया कोरोना से बचाव का टीका

मंगलवार को 98,191 लोगों का टीकाकरण किया गया। इनमें 89951 को पहली खुराक जबकि 8,240 लोगों को दूसरी खुराक दी गयी। देश भर में अभी 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीके लगाये जा रहे हैं। साथ ही 45 साल से अधिक उम्र वाले बीमार लोगों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। सरकार ने एक अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण किये जाने की बात कही है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored