Header 300×250 Mobile

काठमांडू में मनी अंबेडकर जयंती

भारतीय दूतवास व काठमांडू विश्वविद्यालय ने संयुक्त रूप से किया आयोजित

- Sponsored -

584

- Sponsored -

- sponsored -

जोगबनी  (Voice4bihar desk)। काठमांडू स्थित भारतीय राज्यदूतवास व काठमांडू विश्वविद्यालय ने सोमवार को संयुक्त रूप से अंबेडकर जयंती मनाई गयी। इस अवसर पर आज के समय में बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर की प्रासंगिकता पर चर्चा का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में डॉ. भोला थापा, वाइस चांसलर, डॉ. ऋषिकेश वागले, डीन स्कूल ऑफ़ लॉ,  डॉ. उद्धव प्याकरुल काठमांडू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर नवीन कुमार और डॉ. केदार नाथ शर्मा ने इस चर्चा में भाग लिया। भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित इस आयोजन में काठमांडू विश्वविद्यालय के छात्रों की भी सहभागिता थी।

विज्ञापन

कार्यक्रम में डॉ. भोला थापा ने अपने सम्बोधन में आधुनिक भारत के निर्माता के रूप में बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर की भूमिका और समाज के हाशिए के वर्गों के सामाजिक उत्थान के लिए उनके योगदान पर चर्चा की। श्री नवीन कुमार ने स्वागत उद्घोषण में छात्रों को बाबा साहेब के आदर्शों पर चलने के लिए प्रोत्साहित किया। डॉ. ऋषिकेश वागले ने डॉ. अंबेडकर की भूमिका के विशेष उल्लेख के साथ भारत के राजनीतिक और सामाजिक-आर्थिक परिवर्तन व एकीकरण में भारत के संविधान की भूमिका पर जोर दिया।

डॉ. केदार नाथ शर्मा, निदेशक व प्रोफेसर डॉ. सागर राज शर्मा, डीन स्कूल ऑफ आर्ट्स ने इस अवसर पर भारतीय समाज को बदलने में डॉ. अंबेडकर की भूमिका पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर बाबा साहेब अंबेडकर पर वृत्तचित्र ‘मूक नायक’ भी प्रदर्शित की।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored