Header 300×250 Mobile

एशिया कप क्रिकेट रद्द, कोरोना की लगी नजर

24 जून से इंग्लैंड मे शुरू होना था टूर्नामेंट, 27 जून को भारत-पाक के बीच होना था महामुकाबला

- Sponsored -

408

- sponsored -

- Sponsored -

पटना (voice4bihar desk)। अभी क्रिकेट के चाहने वाले आईपीएल स्थगित होने की खबर के सदमे से उबर ही रहे थे कि क्रिकेट के गलियारों से एक और बुरी खबर आ रही है। जून में श्रीलंका में होने वाला एशिया कप किकेट टूर्नामेंट टल गया है। एशिया कप को भी आईपीएल की तरह कोरोना की नजर लग गयी है। इस बार के एशिया कप पर पहले से खतरे के बादल मंडराते रहे हैं। पहले एशिया कप का आयोजन पाकिस्तान में होना तय हुआ था। पर, भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों में तनाव के मद्देनजर इसके आयोजन का जिम्मा श्रीलंका को दिया गया था।

श्रीलंका में 24 जून से टी-20 फॉर्मेट वाले इस एशिया कप टूर्नामेंट के मैच शुरू होने थे। इस टूर्नामेंट में भारत और पाकिस्तान के बीच बहुप्रतिक्षित मुकाबला 27 जून को होना था। पर, टूर्नामेंट के रद्द होने से क्रिकेट के प्रशंसकों को घोर निराशा हुई है। श्रीलंका में कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण एशिया कप टूर्नामेंट को रद्द किया गया है। श्रीलंका में एक दिन पहले कोरोना के डेढ़ लाख से ज्यादा मामले सामने आने के बाद श्रीलंका क्रिकेट के सीईओ एश्ले डी सिलवा ने टूर्नामेंट को रद्द किये जाने की जानकारी दी।

उन्होंने अपने बयान में कहा कि श्रीलंका में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए एशिया क्रिकेट टूर्नामेंट का इस साल जून में आयोजन काफी मुश्किल दिख रहा है। हालांकि बीसीसीआई ने अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। एशिया कप का आयोजन एशिया महाद्वीप की पांच टीमों  भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और श्रीलंका के बीच हर दो साल के अंतराल पर किया जाता है। भारत ने अब तक सात बार इस कप को जीत कर एशिया की सभी टीमों में अपना लोहा मनवाया है। वहीं श्रीलंका पांच जीत के साथ दूसरे पायदान पर है।

विज्ञापन

आखिरी बार 2018 में खेला गया था एशिया कप क्रिकेट, भारत है डिफेंडिंग चैंपियन

बताते चलें कि एशिया कप आखिरी बार 2018 में यूएई में खेला गया था। फाइनल मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को तीन विकेट से मात देकर खिताब अपने नाम किया था। 2020 में भी एशिया कप का आयोजन कोरोना महामारी के चलते रद्द कर दिया गया था। इस बार के एशिया कप मुकाबले में अपनी व्यस्तताओं के चलते बीसीसीआई ने भारत की बी टीम भेजने का फैसला किया था। ए टीम को इंग्लैंड दौरे पर भेजा जाना था। टूर्नामेंट के रद्द होने से कई उन युवा खिलाड़ियों को निराशा हाथ लगी जो टीम में शामिल होकर अपना जौहर दिखाना चाहते थे।

अब क्रिकेट प्रेमियों की निगाहें भारत के इंग्लैंड दौरे पर टिकी हुई है। भारत को इंग्लैंड में न्यूजीलैंड के साथ टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेलना है। इस मैच का आयोजन 18 से 22 जून के बीच होना है। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत दोनों देशों की टीमों को मैच शुरू होने से पहले 14 दिन इंग्लैंड में क्वारेंटाइन होना पड़ेगा।

ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि भारत और न्यूजीलैंड की क्रिकेट टीमें जून के शुरू में ही इंग्लैंड पहुंच जायेगी। वहां भारतीय टीम को इंग्लैंड के साथ टेस्ट और एक दिवसीय मैचों की पूरी सीरीज भी खेलनी है। इंग्लैंड में कोरोना के काबू में होने के कारण क्रिकेट प्रमियों को वहां के मैच का आनंद मिलने की पूरी संभावना है।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT