Header 300×250 Mobile

गबन करने को ई-कार्ट कंपनी के मैनेजर ने रची लूट की साजिश

पांच गिरफ्तार, लूट के 4.51 लाख रुपये बरामद, सारण एसपी ने दी जानकारी

- Sponsored -

433

- sponsored -

- Sponsored -

छपरा (voice4bihar desk)। सारण पुलिस ने ई-कार्ट कंपनी में हुई लूट के मामले में कंपनी के मैनेजर समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। लूट की यह वारदात एकमा थाना क्षेत्र के हंसराजपुर स्थित ई-कार्ट कंपनी फ्लिप कार्ट के कार्यालय से हुई थी। वारदात के बाद कंपनी के मैनेजर ने 17.56 लाख रुपये लूट की एफआईआर दर्ज करायी थी।

पूरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए सारण के एसपी संतोष कुमार ने बताया कि 02 व 03 मई की रात में वारदात हुई थी। इस संबंध में एकमा थाने में कांड संख्या 177 दर्ज कराया गया था। मामले की जांच एसडीपीओ सदर को सौंपी गयी थी। इस कांड के उद्भेदन में टेक्नोलॉजी की भूमिका अहम रही। जांच के क्रम में सीवान के कम्हरिया पंचरुखी के अभियुक्त अभिषेक कुमार को गिरफ्तार किया गया। उसने बताया कि कार्यालय के मैनेजर सुंजन कुमार व कर्मी सूरज कुमार की मिलीभगत से ही इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

विज्ञापन

वारदात के समय कार्यालय में अभियुक्त अभिषेक कुमार, मैनेजर सुंजन कुमार, दिघवारा के कृष्णा सिंह व एक अन्य स्थानीय लड़का था। घटना के बाद ये सभी थाना क्षेत्र के भूइलीगाछी में रुपये का बंटवारा करने गए। यहां कुछ ही रुपये का बंटवारा हुआ बाकी बाद में करने की बात कह सभी वहां से चल दिए। निशानदेही पर इनके हिस्से के लूट के 40 हजार रुपये और घटना के समय पहने हुए कपड़े बरामद किये गये। इसके बाद पुलिस ने एकमाचट्‌टी निवासी सूरज कुमार,  चकनूर दिघवारा के कृष्णा सिंह और मीरपुर भुआल दिघवारा के उमेश महतो को गिरफ्तार किया गया।

अपराधियों की निशानदेही पर लूट के कुल 4.51 लाख बरामद कर लिये गये। वहीं  पुलिस की जांच में मैनेजर के एक और षडयंत्र का पर्दाफाश हुआ। मैनेजर ने कंपनी की राशि गबन करने के लिए 17.56 लाख रुपये की लूट की एफआईआर दर्ज कराई थी जबकि लूट केवल 6.84 लाख रुपये की हुई थी। गिरफ्तार अपराधियो में एक उमेश महतो कुख्यात अपराधकर्मी है। उस पर छपरा शहर समेत जिले के कई थानों में एफआईआर दर्ज है। लूट में उपयोग में लाए गए दो मोबाइल, बाइक व अन्य सामान भी बरामद किये गये हैं।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

ADVERTISMENT